Objective Questions With Answer for Light and Optics : प्रकाश और प्रकाशिकी से संबन्धित महत्वपूर्ण प्रश्नोत्तर

Join Whatsapp Group

Join Telegram Group

Light and Optics Mcq Quiz in Hindi : विभिन्न प्रतियोगी परिक्षाओं में भौतिक विज्ञान के विभिन्न टाॅपिक्स से प्रश्न पूछे जाते हैं। इन्हीं में प्रकाश और प्रकाशिकी एक ऐसा टाॅपिक है जिससे लगभग सभी परिक्षाओं में प्रश्न पूछे ही जाते रहे हैं। आज के इस लेख में हम आपके लिए (Light and Optics Mcq Quiz in Hindi) प्रकाश और प्रकाशिकी से संबंधित अति-महत्वपूर्ण प्रश्न क्विज के रुप में लेकर आये हैं।

ये सभी Light  Mcq Quiz in Hindi & Optics Mcq Quiz in Hindi लगभग सभी परिक्षाओं के लिए उपयोगी साबित होंगे।

प्रकाश: प्रकाश ऊर्जा का ही एक रूप है, जिसके द्वारा हमें वस्तुओं को देखने की अनुभूति होती है, वास्तव में प्रकाश विद्युत चुम्बकीय अनुप्रस्थ तरंग है। विज्ञान की वह शाखा जिसमें हम इसके गुणधर्मों का अध्ययन करते हैं, प्रकाशिकी कहलाती है। प्रकाश (Light) हमारी आँखों पर एक दृश्य संवेदना पैदा करता है, जो ऊर्जा का एक रूप है।

प्रकाशिकी : भौतिक विज्ञान की वह शाखा जिसमे प्रकाश का विस्तृत अध्ययन किया जाता है। किरण प्रकाशिकी (ray optics): प्रकाशिकी की वह शाखा जिसमे प्रकाश का किरणों के रूप में अध्ययन किया जाता है , किरण प्रकाशिकी कहलाती है।

Light  Mcq Quiz in Hindi | Optics Mcq Quiz in Hindi

प्रश्न- 1. आंखों में प्रवेश करने वाले प्रकाश की मात्रा को किसके द्वारा नियंत्रित और विनियमित किया जा सकता है?

  1. कॉर्निया
  2. रेटिना
  3. आईरिस
  4. पुतली

उत्तर- d

पुतली आंख में प्रवेश करने वाले प्रकाश की मात्रा को नियंत्रित करती है। आईरिस पुतली के व्यास और आकार को नियंत्रित करती है। कॉर्निया आंख का अगला भाग है। यह प्रकाश को आंख में प्रवेश करने की अनुमति देता है। रेटिना आंख की स्क्रीन की तरह है। यह वस्तु का प्रतिबिम्ब बनाता है। यह प्रकाश ऊर्जा को तंत्रिकासंकेतों में भी परिवर्तित करता है और मस्तिष्क को भेजता है।


प्रश्न- 2. एक मानक स्रोत के रूप में किसी अज्ञात स्रोत से निर्मित प्रकाश की तीव्रता को मापने के लिए किस उपकरण का प्रयोग किया जाता है ?

  1. कैलीपर्स
  2. डायनमोमीटर
  3. फोटोमीटर
  4. एमीटर

उत्तर- c

प्रकाशमापी – इसका उपयोग प्रकाश की तीव्रता को मापने के लिए किया जाता है। कैलिपर्स- इसका उपयोग किसी वस्तु के आयाम को मापने के लिए किया जाता है। एमीटर-इसका उपयोग करंट मापने के लिए किया जाता है। डायनमोमीटर – किसी घूर्णन शाफ्ट द्वारा प्रेषित यांत्रिक बल, या शक्ति को मापने के लिए डायनेमोमीटर का उपयोग किय जाता है ।


प्रश्न-3. रजत को दीर्घदृष्टि है तो । उसकी दृष्टि को सही करने के लिए नेत्र विशेषज्ञ उसे किस प्रकार के लेंस की सलाह देगा ?

  1. द्विनाभित (बाइफोकल)
  2. अवतल
  3. उन्नतिशील
  4. उत्तल

उत्तर- d

हाइपरमेट्रोपिया (दीर्घदृष्टि) को दूरदर्शिता के रूप में भी जाना जाता है जिसे उत्तल लेंस द्वारा ठीक किया जाता है. इस स्थिति में रोगी दूर की वस्तुओं को स्पष्ट रूप से देख सकता है लेकिन निकट की वस्तुओं को स्पष्ट रूप से देखने में असमर्थ होता है.


प्रश्न- 4. आँख में प्रकाश किरणें बाहरी पारदर्शी संरचना के माध्यम से, आँख के सामने स्थित,……… नामक से प्रवेश करती हैं ।

  1. लेंस
  2. आइरिस
  3. कॉर्निया
  4. ऑप्टिक तंत्रिका

उत्तर- c

कॉर्निया आंख का अगला भाग होता है. यह प्रकाश को आंख में प्रवेश करने की अनुमति देता है। आइरिस पुतली के व्यास और आकार को नियंत्रित करता है। ऑप्टिक नसें तंत्रिका संकेत ले जाती हैं।


प्रश्न- 5. प्रेसबायोपिया को सही करने के लिए आमतौर पर इस्तेमाल किया जाने वाला लेंस प्रकार………. है।

  1. बाईफोकल लेंस
  2. बेलनाकार लेंस
  3. उत्तल लेंस
  4. अवतल लेंस

उत्तर- a

प्रेसबायोपिया को ठीक करने के लिए आमतौर पर इस्तेमाल किया जाने वाला लेंस, बाइफोकल लेंस होता है। मायोपिया को ठीक करने के लिए आमतौर पर अवतल लेंस का उपयोग किया जाता है उत्तल लेंस आमतौर पर लंबी दृष्टि को ठीक करने के लिए प्रयोग किया जाता है। दृष्टिवैषम्य ( एस्टिगमैटिस्म) को ठीक करने के लिए बेलनाकार लेंस का प्रयोग किया जाता है।


प्रश्न- 6. टिंडल प्रभाव किस कारण से होता है ?

  1. प्रकाश का प्रकीर्णन
  2. प्रकाश का विक्षेपण
  3. प्रकाश का अपवर्तन
  4. प्रकाश का परावर्तन

उत्तर- a

जब प्रकाश की किरणें सूक्ष्म कणों से टकराती हैं तो टकराकर बिखर जाती हैं अर्थात जब प्रकाश किसी कोलायडी माध्यम से होकर गुजरता है तो प्रकाश का प्रकीर्णन होता है तथा प्रकाश का मार्ग दिखाई देने लगता है, यह टाइन्डल प्रभाव को प्रदर्शित करता है।

  Railway Group D Practice Set-9 : ग्रुप डी परिक्षा के लिए महत्वपूर्ण प्रश्न

प्रश्न- 7. आसमान नीला किसकी वजह से नज़र आता है ?

  1. प्रकाश का अपवर्तन
  2. प्रकाश का विक्षेपण
  3. प्रकाश का प्रकीर्णन
  4. प्रकाश का परावर्तन

उत्तर- c

प्रकाश का प्रकीर्णन – जब प्रकाश किसी ऐसे माध्यम से गुजरता है, जिसमें धूल तथा अन्य पदार्थों के अत्यन्त सूक्ष्म कण होते हैं, तो इनके द्वारा प्रकाश सभी दिशाओं में प्रसारित हो जाता है, जिसे प्रकाश का प्रकीर्णन कहते हैं। आकाश नील रंग का होता है और नीले प्रकाश की तरंगदैर्ध्य कम होती है। यह सूक्ष्म कणों से टकराकर
आकाश में बिखर जाता है जिस कारण आकाश नीला दिखाई देता है.


Q8. फल्मिनोलॉजी …….. का अध्ययन है ।

  1. ज्वालामुखी प्रस्फुटन
  2. आकाशीय बिजली
  3. प्राकृतिक गैस
  4. वायुमंडल

उत्तर- b

बिजली का अध्ययन फुलमिनोलॉजी ज्वालामुखी उद्गारों का अध्ययन ज्वालामुखी विज्ञान


प्रश्न- 9. जब किसी वस्तु को ध्रुव तथा फोकस के बीच रखा जाता है, तब अवतल दर्पण के द्वारा बनाए गए प्रतिबिंब का आकार क्या होगा ?

  1. समान आकार
  2. आवर्धित
  3. बिंदु आकार
  4. कम आकार

उत्तर- b

जब वस्तु अवतल दर्पण के ध्रुव और फोकस के बीच रखी जाती है. प्रतिबिम्ब आभासी, सीधा और बड़ा होगा।


प्रश्न- 10. तारों का टिमटिमाना मुख्य रूप से किसके कारण होता है ?

  1. अपवर्तन
  2. विवर्तन
  3. परावर्तन
  4. अभिवहन

उत्तर- a

अपवर्तन – हवा के घनत्व में परिवर्तन के कारण तारे से आने वाले प्रकाश का लगातार अपवर्तन होता है जिसके परिणामस्वरूप तारे टिमटिमाते हैं।


प्रश्न- 11. पनडुब्बियों में समुद्र स्तर से ऊपर की  चीज़ों को देखने के लिए निम्न में से किस उपकरण का प्रयोग किया जाता है ?

  1. ओडोमीटर
  2. हिप्सोमीटर
  3. पाइरेलियोमीटर
  4. पेरिस्कोप

उत्तर- d

पेरिस्कोप – पेरिस्कोप का उपयोग पानी के नीचे या जलमग्न रहते हुए जहाजों के नेविगेशन के लिए किया जाता है । ओडोमीटर इसका उपयोग वाहन द्वारा तय की गई दूरी को मापने के लिए किया जाता है। पाइरेलियोमीटर इसका उपयोग प्रत्यक्ष बीम सौर विकिरण को मापने के लिए किया जाता है। हाइपोमीटर हाइपोमीटर ऊंचाई या उन्नयन मापने के लिए एक उपकरण है।


प्रश्न- 12. मरीज़ों के दाँतों की बड़ी तस्वीर देखने के लिए दन्त चिकित्सक किस दर्पण का प्रयोग करते हैं ?

  1. वक्र दर्पण
  2. उत्तल दर्पण
  3. समतल दर्पण
  4. अवतल दर्पण

उत्तर- d

अवतल दर्पणों का उपयोग बड़ा प्रतिबिम्ब और सीधा प्रतिबिम्ब बनाने के लिए किया जाता है इस कारण दंत चिकित्सक इसका उपयोग दांतों के बड़े प्रोफाइल को देखने के लिए इसमें क्षय का पता लगाने के लिए करते हैं।

समतल दर्पण :- समतल दर्पण एक समतल परावर्तक सतह वाला दर्पण होता है। समतल दर्पण से टकराने वाली प्रकाश किरणों के लिए परावर्तन कोण आपतन कोण के बराबर होता है ।

उत्तल दर्पण:- उत्तल दर्पण या अपसारी दर्पण एक घुमावदार दर्पण होता है जिसमें परावर्तक सतह प्रकाश स्रोत की ओर बढ़ती है। उत्तल दर्पण प्रकाश को बाहर की ओर परावर्तित करते हैं, इसलिए इसका उपयोग प्रकाश को फोकस करने के लिए नहीं किया जाता है। ऐसे दर्पण सदैव आभासी प्रतिबिम्ब बनाते है ।


प्रश्न- 13. समतल दर्पण के द्वारा निर्मित प्रतिबिंब हमेशा…………. होता है।

  1. आभासी तथा सीधा
  2. वास्तविक तथा सीधा
  3. वास्तविक तथा उल्टा
  4. आभासी तथा उल्टा

उत्तर- a

समतल दर्पण प्रतिबिम्ब की विशेषताएँ हैं। आभासी और सीधा प्रतिबिम्ब दर्पण के पीछे बनता है। छवि का आकार बिम्ब के बराबर होता है। प्रतिबिम्ब तथा दर्पण की दूरी वस्तु तथा दर्पण की दूरी के बराबर होती है। पार्श्व रूप से उल्टी छवि दाहिने हाथ की छवि बाईं ओर दिखाई जाएगी। किसी बिम्ब का पूरा प्रतिबिम्ब देखने के लिए समतल दर्पण बिम्ब के आधी होनी चाहिए।


प्रश्न-14. आंख का वह हिस्सा जो तंत्रिका संकेतों में किसी वस्तु की छवि के रूपांतरण के लिए जिम्मेदार होता है ?

  1. आइरिस
  2. ऑप्टिक तंत्रिका
  3. विटेरस ह्यूमर
  4. रेटिना

उत्तर- d

रेटिना का उद्देश्य उस प्रकाश को प्राप्त करना है जिसे लेंस ने केंद्रित किया है, रेटिना किसी वस्तु की छवि को तंत्रिका संकेतों में बदलने के लिए जिम्मेदार है। इसमें ऊतक की एक पतली परत होती है जो आंख के पिछले हिस्से को अंदर की ओर खींचती है और यह ऑप्टिक तंत्रिका के पास स्थित होती है। यह प्रकाश को तंत्रिका संकेतों में परिवर्तित करता है और इन संकेतों को दृश्य पहचान के लिए मस्तिष्क को भेजना है।

  UPSSSC PET Hindi Practice Set-22 : यूपी पीईटी परिक्षा हिंदी प्रैक्टिस सेट, भाग-22

प्रश्न- 15. उस घटना का क्या नाम है ( प्रकाश के प्रकीर्णन से) जिसमे किसी पर्वत के शीर्ष पर सूर्योदय और सूर्यास्त के दौरान एक हल्का लाल या नारंगी रंग होता है ?

  1. ब्रिलोइन स्कैटरिंग
  2. सर्किल ऑफ़ कन्फूज़न
  3. अल्पेन्ग्लो
  4. बैरल डिस्टॉर्शन

उत्तर- c

एल्पेंग्लो वह घटना है जिसके द्वारा पर्वत शिखर सूर्योदय और सूर्यास्त के आसपास गुलाबी या नारंगी रंग का हो जाता है। यह या तो सूर्यास्त के बाद या सूर्योदय से पहले बादलों से परोक्ष सूर्य के प्रकाश का परावर्तन है, या सूर्यास्त या सूर्योदय के निकट होने वाली सीधी धूप है।

प्रकाश का प्रकीर्णन वह परिघटना है जिसमें प्रकाश किरणें धूल या गैस के अणु, जलवाष्प आदि किसी बाधा से टकराने पर अपने सीधे पथ से विचलित हो जाती हैं। प्रकाश का प्रकीर्णन टिंडल प्रभाव और “सूर्योदय और सूर्यास्त के लाल रंग” जैसी कई शानदार घटनाओं को जन्म देता है।


प्रश्न- 16. सूर्य द्वारा उत्सर्जित प्रकाश का रंग क्या है ?

  1. पीला
  2. नारंगी
  3. लाल
  4. सफेद

उत्तर- d

सूर्य द्वारा उत्सर्जित प्रकाश सफेद होता है, जिसमें हल्के लाल, नारंगी, पीले, हरे, नीले, इंडिगो और वायलेट की सभी दृश्य आवृत्तियां शामिल होती हैं, जो सभी इंद्रधनुष के रंग बनाते हैं और रंग पैटर्न को याद रखने के लिए एक शब्द याद रखें ‘VIBGYOR’ जो शुरुआती अक्षरों से उल्टे क्रम में बनता है।


प्रश्न- 17. दो दर्पणों द्वारा बनाई गई छवियों की कुल संख्या 120° से एक दूसरे पर झुकी हुई है, है।

  1. 1
  2. 2
  3. 4
  4. 3

उत्तर- b

दो दर्पणों को एक दूसरे से (0)थीटा कोण पर रखने पर बनने वाले प्रतिबिम्बों की संख्या निम्र द्वारा दी गई है:-
n = (360° / 0 ) -1
तो, यहाँ, हमारे पास एक दूसरे के लंबवत रखे गए दर्पण हैं। अत: e = 90°
=> n = बनाई गई छवियों की संख्या
=> n = ( 360° /120 ° ) – 1
=> n = 3-1
=> n = 2

तो, कुल दो चित्र बनेंगे।


प्रश्न-18. निम्नलिखित में से इसका अपवर्तनांक क्राउन ग्लास के सबसे निकट है ?

  1. कनाडा बालसम
  2. हीरा
  3. नीलम
  4. रूबी

उत्तर- a

इसकी उच्च ऑप्टिकल गुणवत्ता और क्राउन ग्लास ( n = 1.55) के अपवर्तक सूचकांक की समानता के कारण, शुद्ध और फ़िल्टर किए गए कनाडा बाल्सम को पारंपरिक रूप से प्रकाशिकी में अदृश्य के रूप में उपयोग किया जाता था जब ये कांच के लिए सूखी गोंद, जैसे लेंस तत्व के रूप में पायी जाती है।


प्रश्न- 19. एक माध्यम से दूसरे माध्यम में जाने पर मूल पथ से प्रकाश के विचलन की घटना ……….. कहलाती है।

  1. परावर्तन
  2. अपवर्तन
  3. बाधा
  4. विवर्तन

उत्तर-

प्रकाश की किरण की इस विरल माध्यम ( हवा ) से सघन माध्यम (पानी) में जाने पर अभिलम्ब की ओर तथा सघन माध्यम से विरल माध्यम में जाने पर अभिलम्ब से दूर मुड़ने की प्रक्रिया को प्रकाश का अपवर्तन (Refraction of Light) कहते हैं।

उदाहरण:

  1. जब एक पेंसिल को पानी से भरे ग्लास में रखा जाता है, तो पेंसिल टेढ़ा दिखता है।
  2. एक सिक्के को पानी से भरे टब में रखा जाता है, तो सिक्का टब की तल से थोड़ा उपर दिखता है।

प्रश्न- 20. कौन सी घटना किसी माध्यम के अणुओं द्वारा कंपन ऊर्जा स्तरों के लिए उत्साहित होने पर प्रकाश के प्रकीर्णन से संबंधित है?

  1. हाइजेंस प्रभाव
  2. मैक्सवेल प्रभाव
  3. रमन प्रभाव
  4. रेले प्रभाव

उत्तर- c

रमन प्रभाव एक माध्यम के अणुओं द्वारा प्रकाश के प्रकीर्णन से संबंधित है जब वे कंपन ऊर्जा स्तरों के लिए उत्साहित होते हैं। हाइजेंस का सिद्धांत कहता है कि तरंग के प्रत्येक बिंदु को द्वितीयक तरंगों का स्रोत माना जा सकता है।

मैक्सवेल प्रभाव विद्युत चुम्बकीय प्रेरण की एक घटना है जिसमें एक विद्युत आवेश, एक सोलनॉइड के पास, जिसमें धारा में धीरे-धीरे परिवर्तन होता है, एक विद्युत प्रभावन बल (e.m.f.) महसूस करता है, भले ही चुंबकीय क्षेत्र व्यावहारिक रूप से अंदर और बाहर शून्य हो।

रेले प्रभाव विकिरण की तरंग दैर्ध्य से बहुत छोटे कणों द्वारा प्रकाश या अन्य विद्युत चुम्बकीय विकिरण के विक्षेपण की घटना है।


प्रश्न- 21. सूर्य के प्रकाश में कितने रंग होते हैं?

  1. तीन
  2. दो
  3. सात
  4. पांच

उत्तर- c

सूर्य के प्रकाश में सात रंग होते हैं। सूर्य की किरणें सफेद रंग की होती हैं और सात रंगों यानी बैंगनी, इंडिगो, नीला, हरा, नारंगी और लाल का मिश्रण होती हैं। हम आमतौर पर इसे विबग्योर (VIBGYOR) कहते हैं ।

  UP Lekhpal Quiz-24 : केंद्र व राज्य सरकार की योजनाएं, भाग-1

प्रश्न-22. ……….. का पूर्ण अपवर्तनांक 2.42 है।

  1. हीरा
  2. पानी
  3. हवा
  4. क्राउन ग्लास

उत्तर- a

हीरे का पूर्ण अपवर्तनांक 2.42 है। हीरे का पूर्ण अपवर्तनांक 2.42 और कांच 1.50 है। अपवर्तक सूचकांक, जिसे अपवर्तन का सूचकांक भी कहा जाता है, एक माध्यम से दूसरे माध्यम में जाने पर प्रकाश की किरण के झुकने को मापता है।


प्रश्न- 23. सूर्य के प्रकाश की लाल और हरी तरंग दैर्ध्य के अलावा, समुद्र में पानी के अणुओं द्वारा सूर्य के प्रकाश की अन्य तरंग दैर्ध्य को अवशोषित किया जाता है?

  1. नारंगी
  2. नीला
  3. वायलेट
  4. पीला

उत्तर- d

सूर्य के प्रकाश की लाल और हरी तरंग दैर्ध्य के अलावा, पीली धूप की तरंग दैर्ध्य समुद्र में पानी के अणुओं द्वारा अवशोषित की जाती है। सूर्य के प्रकाश की लाल, पीली और हरी तरंग दैर्ध्य समुद्र में पानी के अणुओं द्वारा अवशोषित की जाती हैं। जब सूरज की रोशनी समुद्र से टकराती है, तो कुछ प्रकाश सीधे वापस परावर्तित हो जाता है, लेकिन इसका अधिकांश भाग समुद्र की सतह में प्रवेश करता है और पानी के अणुओं के साथ संपर्क करता है, जिनका सामना यह करता है।


प्रश्न- 24. निम्नलिखित में से कौन सा दर्पण वाहनों में हेडलाइट के रूप में प्रयोग किया जाता है?

  1. डबल उत्तल दर्पण
  2. समतल दर्पण
  3. अवतल दर्पण
  4. उत्तल दर्पण

उत्तर- c

अवतल दर्पण का उपयोग वाहनों में हेडलाइट के रूप में किया जाता है क्योंकि जब हेडलाइट के बल्ब को अवतल दर्पण के फोकस पर रखा जाता है, तो यह प्रकाश को अनंत (लंबी दूरी) तक फैलने देता है।


प्रश्न-25. निम्नलिखित में से किस प्रकार के दर्पण में प्रकाश का पार्श्व व्युत्क्रमण होता है?

  1. उत्तल दर्पण
  2. अवतल दर्पण
  3. आयत दर्पण
  4. समतल दर्पण

उत्तर- d

समतल दर्पण प्रकाश का पार्श्व व्युत्क्रमण दर्शाते हैं। पार्श्व उलटा एक दर्पण छवि का उत्क्रमण है जहां वस्तु का दाहिना भाग दर्पण के पीछे बाईं ओर दिखाई देता है।


प्रश्न- 26. जो लोग बाइफोकल लेंस पहनते हैं उनमें……….. होता है।

  1. दीर्घदृष्टि
  2. जरादूरदृष्टि
  3. लघु दृष्टि
  4. मोतियाबिंद

उत्तर- b

जो लोग बाइफोकल लेंस पहनते हैं उन्हें प्रेसबायोपिया होता है। बिफोकल लेंस का उपयोग उन लोगों के लिए किया जाता है जो निकट और दूरदर्शी दोनों हैं।


प्रश्न- 27. किस घटना के कारण साफ आकाश का रंग नीला होता है?

  1. प्रकाश का विक्षेपण
  2. प्रकाश का परावर्तन
  3. प्रकाश का प्रकीर्णन
  4. प्रकाश का अपवर्तन

उत्तर- c

प्रकाश के प्रकीर्णन की घटना के कारण स्पष्ट आकाश का रंग नीला होता है। रमन प्रकीर्णन (प्रकाश का प्रकीर्णन) की खोज के लिए रमन को 1930 में भौतिकी में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। टाइन्डल प्रभाव कोलॉइडी कणों द्वारा प्रकाश के प्रकीर्णन की परिघटना है।


प्रश्न- 28. पर्दे पर बनने वाले प्रतिबिम्ब को ……….. प्रतिबिम्ब कहते हैं, जबकि समतल दर्पण से बनने वाले प्रतिबिम्ब को ………. प्रतिबिम्ब कहते हैं।

  1. वास्तविक आभासी
  2. परवलयिक; सतत
  3. आभासी वास्तविक
  4. वाहक; बहुस्तरीय

उत्तर- a

परदे पर बनने वाले प्रतिबिम्ब को वास्तविक प्रतिबिम्ब कहते हैं, जबकि समतल दर्पण से बनने वाले प्रतिबिम्ब को आभासी प्रतिबिम्ब कहते हैं। वास्तविक प्रतिबिम्ब प्रकाश किरणों के वास्तविक प्रतिच्छेदन से बनता है। आभासी प्रतिबिम्ब तब बनता है जब प्रकाश किरणें एक बिंदु से निकलती हुई प्रतीत होती हैं लेकिन वास्तव में मिलती नहीं हैं।


प्रश्न-29. LED का पूर्ण रूप क्या है?

  1. Linear Emergency Device
  2. Light Emitting Diode
  3. Liquid Emitting Display
  4. Light Emitting Device

उत्तर- b

LED, पूर्ण प्रकाश उत्सर्जक डायोड में, इलेक्ट्रॉनिक्स में, एक अर्धचालक उपकरण जो विद्युत प्रवाह के साथ चार्ज होने पर अवरक्त या दृश्य प्रकाश का उत्सर्जन करता है।


प्रश्न-30. ‘मायोपिया’ को इस नाम से भी जाना जाता है।

  1. निकट दृष्टि
  2. दृष्टिवैषम्य
  3. प्रेसबायोपिया
  4. दूरदर्शिता

उत्तर- a

‘मायोपिया’ को निकट दृष्टिदोष के रूप में भी जाना जाता है। मायोपिया को ‘माइनस’ या आकार में अवतल लेंस वाले चश्मे या कॉन्टैक्ट लेंस द्वारा ठीक किया जाता है। दृष्टिवैषम्य को ठीक करने के लिए हमें एक बेलनाकार लेंस का उपयोग करना चाहिए। प्रेसबायोपिया को द्वि-फोकल लेंस का उपयोग करके ठीक किया जा सकता है। दूरदर्शिता को ठीक करने के लिए चश्मे में उत्तल लेंस का उपयोग किया जाता है।


 

Leave a Comment

X

UP Police