Economics Important Question in Hindi : अर्थव्यवस्था से जुड़े महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर

Economics Quiz in Hindi: आज का दौर प्रतियोगी परीक्षाओं का हो चला है और लगभग सभी प्रतियोगी परीक्षाओं में जीके सेक्शन के अंतर्गत अर्थव्यवस्था से जुड़े प्रश्न पूछे ही जाते हैं। जिसकी महत्ता को देखते हुए हम आपके लिए विश्व एवं भारतीय अर्थव्यवस्था से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण वस्तुनिष्ठ प्रश्न लेकर आए हैं।

Economics Quiz in hindi

Economics Important  Quiz/Question in Hindi PDF

आगे आपकी इकोनॉमिक्स क्विज के रूप में अर्थशास्त्र के प्रश्न उत्तर की लंबी श्रृंखला उपलब्ध करवाई गई है। आप इन आर्थिक विकास MCQ के जरिए अपनी परीक्षा के लिए अर्थव्यवस्था टेस्ट भी दे सकते हैं।

Economics Quiz in Hindi

प्रश्न 1. ‘नव-मल्थूसियन सिद्धांत निम्नलिखित में से किससे संबंधित है?

  1. रोजगार
  2. गरीबी
  3. संसाधन की कमी
  4. आय

उत्तर-(c)

‘नव मल्थूसियन सिद्धांत’ संसाधन की कमी से संबंधित है। थॉमस रॉबर्ट माल्थस ने 1798 ई. में अपने लेख (Essay of Principle of Population) में खाद्यान्नों की सीमित आपूर्ति को जनांकिकीय आर्थिक विकास के अवरोध के रूप में प्रस्तुत किया।


प्रश्न 2. अनिवार्य बचत का संबंध किससे है?

  1. आयकर दाताओं पर थोपे गए अनिवार्य निक्षेप (जमा)
  2. निजी क्षेत्र के कर्मचारियों के भविष्य निधि में अभिदान
  3. कीमतों में बढ़ोत्तरी के परिणामस्वरूप खपत की कमी
  4. व्यक्तिगत आय और धन पर कर

उत्तर-(c)

नोबेल पुरस्कार विजेता फ्रेडरिक वॉन हायेक के अनुसार अनिवार्य बचत (Forced Saving) कीमतों में बढ़ोत्तरी के परिणामस्वरूप खपत की कमी है।

यह प्रत्यक्ष रूप में हो सकता है जब सरकार करों में वृद्धि करती है अथवा अप्रत्यक्ष रूप में अधिक मुद्रास्फीति के कारण। अतः अभीष्ट उत्तर विकल्प (c) है।


प्रश्न 3. किस आर्थिक प्रणाली में सरकार यह निर्णय लेती है कि समाज की आवश्यकताओं के अनुसार भिन्न वस्तुओं का उत्पादन किया जाए?

  1. समाजवादी
  2. मिश्रित
  3. पारंपरिक
  4. पूंजीवादी

उत्तर-(a)

समाजवादी आर्थिक प्रणाली में सरकार यह निर्णय लेती है कि समाज की आवश्यकताओं के अनुसार भिन्न वस्तुओं का उत्पादन जाए। शूम्पीटर के अनुसार, ‘समाजवादी अर्थव्यवस्था उस किया अर्थव्यवस्था को कहते हैं, जिसमें उत्पादन के साधनों पर केंद्रीय शक्ति का नियंत्रण होता है, जहां समाज की आर्थिक क्रियाएं निजी क्षेत्र में न होकर सार्वजनिक क्षेत्र में होती हैं।


प्रश्न 4. भारत में योजनाबद्ध अर्थव्यवस्था किस पद्धति पर आधारित है?

  1. पूंजीवादी व्यवस्था
  2. पारंपरिक व्यवस्था
  3. अधिकार व्यवस्था
  4. समाजवादी व्यवस्था

उत्तर-(d)

भारत में योजनाबद्ध अर्थव्यवस्था समाजवादी व्यवस्था पद्धति पर आधारित है। एक योजनाबद्ध अर्थव्यवस्था में लघु एवं कुटीर में उद्योगों के योगदान का निर्धारण प्रथमतः विभिन्न क्षेत्रों (Sectors) के बीच साधनों के वितरण के सामान्य सिद्धांतों को निश्चित कर और द्वितीयतः किसी क्षेत्र विशेष में प्रौद्योगिक चयन के सिद्धांतों के अनुसार किया जा सकता है।


प्रश्न 5. निम्नलिखित में से कौन-सा भारतीय बैंक भारत में 1,00,000 करोड़ रुपये के बाजार पूंजीकरण तक पहुंचने वाला पहला बैंक बना?

  1. ICICI
  2. HDFC
  3. SBI
  4. PNB

उत्तर-(a)

  • भारत में 1,00,000 करोड़ रुपये के बाजार पूंजीकरण तक पहुंचने में वाला पहला बैंक आईसीआईसीआई (ICICI) है।
  • ICICI बैंक निजी क्षेत्र का भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक बैंक है।
  • 31 मार्च, 2018 तक इसकी कुल समेकित संपत्ति 11242.81 बिलियन डॉलर था तथा कर के बाद इसका लाभ 67.77 बिलियन डॉलर था।
  • 31 जनवरी, 2019 तक पूरे भारत में इस बैंक की 4867 शाखाएं तथा 14367 ATM थे।
  • वर्तमान में (1 अप्रैल, 2021 तक) बाजार पूंजीकरण के संदर्भ में शीर्ष 3 भारतीय कंपनियां (क्रमशः) हैं- RIL>TCS>HDFC बैंक।


प्रश्न 6. गिफन (निम्न स्तरीय) तथा घटिया माल पर विचार करते समय हमें यह ज्ञात होता है, कि-

  1. घटिया माल गिफन माल भी अवश्य होगा
  2. गिफन माल घटिया माल भी अवश्य होगा
  3. घटिया माल गिफ़न माल नहीं हो सकता
  4. गिफन माल घटिया माल नहीं हो सकता

उत्तर-(b)

गिफ़न माल घटिया माल भी अवश्य होगा। इस बात का संकेत प्रथमतः ‘रॉबर्ट गिफन’ ने दिया था, इसलिए उन्हीं के नाम पर ऐसी वस्तुओं को ‘गिफन वस्तुएं’ कहा जाता है। गिफन वस्तुएं ऐसी वस्तुएं हैं जिन पर उपभोक्ता अपनी आय का बड़ा भाग व्यय करता है। इन वस्तुओं पर मांग का नियम लागू नहीं होता बल्कि मूल्य में वृद्धि से इनकी मांग बढ़ जाती है व मूल्य में कमी से मांग कम हो जाती है।


प्रश्न 7. निम्नलिखित में से क्या उपभोक्ता अर्द्ध-टिकाऊ वस्तुएं हैं?

  1. कार और टेलीविजन सेट
  2. दुग्ध और दुग्ध उत्पाद
  3. खाद्यान्न और अन्य खाद्य उत्पाद
  4. पंखा और बिजली की इस्त्री जैसे विद्युत उपकरण

उत्तर-(c)

अर्द्ध टिकाऊ उपभोक्ता वस्तुएं हैं वे वस्तुएं जो टिकाऊ तथा गैर-टिकाऊ उपभोक्ता वस्तुओं के मध्य स्थित होती हैं। इस प्रकार की वस्तुओं के अंतर्गत वे वस्तुएं आती हैं जिनकी जीवन वैधता एक वर्ष से दो वर्ष होती है। जैसे-कपड़ा, जूता, गहने, संरक्षित खाद्य पदार्थ आदि।

  RRB NTPC CBT-1 Biology Quiz-20 : रेलवे एनटीपीसी परिक्षा में पूछे गये जीव विज्ञान के प्रश्न


प्रश्न 8. फसल कर्ज के लिए बैंक को अदा किया गया ब्याज है-

  1. मध्यवर्ती उपभोग
  2. अंतरण अदायगी
  3. उपादान अदायगी
  4. पूंजी निर्माण

उत्तर-(c)

उपादान अदायगी उस आय को कहते हैं, जो उत्पादन के कारकों के स्वामियों (गृहस्थ क्षेत्र) को अपनी कारक सेवाओं को उत्पादकों को अर्पित करने के बदले में प्राप्त होती है। उपादान अदायगी में शामिल हैं- लगान, व्याज, मजदूरी तथा लाभ।


प्रश्न 9. घटिया वस्तु के लिए मांग गिरती है, जब-

  1. कीमत बढ़ती है
  2. आय बढ़ती है
  3. कीमत घटती है
  4. आय घटती है

उत्तर-(b)

निम्नकोटि या घटिया वस्तुएं (Inferior Goods) ऐसी वस्तुएं है जिनकी मांग उपभोक्ता की आय बढ़ने पर घट जाती है और आय कम होने पर बढ़ जाती है। इस प्रकार उपभोक्ता आय तथा घटिया की मांग में विपरीत संबंध होता है।


प्रश्न 10. यदि किसी माल की मांग की ऋणात्मक आय लोच है और धनात्मक मूल्य लोच है, तो वह कैसा माल है?

  1. निम्नस्तरीय माल
  2. सामान्य माल
  3. बढ़िया माल
  4. घटिया माल

उत्तर-(a)

निम्नस्तरीय वस्तुओं (Inferior Goods) की मांग की ऋणात्मक आय लोच और धनात्मक मूल्य लोच होती है। इनके मांग वक्र का ढलान नीचे से ऊपर की ओर होता है।

  • Giffen Goods = निम्नस्तरीय वस्तुएं, गिफन वस्तुएं।
  • Inferior Goods = निम्नस्तरीय वस्तुएं, घटिया वस्तुएं।

Read Also : Geography Quiz in Hindi


प्रश्न 11. औसत परिवर्ती लागत वक्र……..आकार के होते हैं।

  1. U
  2. V
  3. X
  4. W

उत्तर-(a)


प्रश्न 12. निम्नलिखित में से किस प्रकार के बाजार में एक व्यवसाय संघ कीमतों को नियंत्रित करने में असमर्थ रहता है?

  1. एकाधिकार
  2. पूर्ण स्पर्धा
  3. मिश्रित स्पर्धा
  4. अल्पाधिकार

उत्तर-(b)

पूर्ण स्पर्धा या पूर्ण प्रतियोगिता के अंतर्गत फर्म कीमतों को नियंत्रित करने में असमर्थ होते हैं। पूर्ण प्रतियोगिता में फर्म कीमत स्वीकारती है तथा एकाधिकार (Monopoly) में फर्म कीमत निर्धारक होती है।


Economics Quiz for SSC in Hindi

प्रश्न 13. किस नियम में ये कहा गया है कि लगातार स्वाद एवं वरियताओं के साथ-साथ जैसे-जैसे आय बढ़ती हैं, भोज्य पदार्थों पर खर्च आय का अनुपात कम होता जाता है?

  1. ग्रिफिन नियम
  2. एंजिल नियम या
  3. ग्रेशम नियम
  4. से का नियम

उत्तर-(d)

एंजिल एक जर्मन सांख्यिकी विद थे। इन्होंने यह निष्कर्ष दिया कि जैसे-जैसे आय बढ़ती है-

  • भोजन पर होने वाले व्यय के अनुपात में कमी आएगी।
  • मकान तथा कपड़े पर होने वाले व्यय का अनुपात स्थिर रहेगा तथा
  • शिक्षा, स्वास्थ्य, मनोरंजन आदि पर होने वाले व्यय के अनुपात में वृद्धि होगी।


प्रश्न 14. निम्नलिखित में से ‘लॉरेंज वक्र’ क्या दर्शाता है?

  1. रोजगार
  2. मुद्रास्फीति
  3. अपस्फीति
  4. आय वितरण

उत्तर-(d)

आय के वितरण में व्याप्त विषमताओं को प्रदर्शित करने वाला वक्र ‘लॉरेंज वक्र’ कहलाता है। यह अमेरिकी सांख्यिकीकार मैक्स ओ लॉरेंज द्वारा प्रतिपादित किया गया था।


प्रश्न 15. गिनी गुणांक का प्रयोग किसके लिए किया जाता है?

  1. आय समानता को मापने के लिए
  2. आय असमानता को मापने के लिए
  3. आय वितरण को मापने के लिए
  4. लाभ-हानि को मापने के लिए

उत्तर-(b)

गिनी गुणांक का प्रयोग आय असमानता को मापने के लिए किया जाता है।

गिनी गुणांक को वर्ष 1912 में इटली के सांख्यिकीविद कोराडो गिनी ने विकसित किया।


प्रश्न 16. वे वस्तुएं, जो या तो उपभोग अथवा निवेश के लिए निर्धारित हैं, क्या कहलाती हैं?

  1. मध्यवर्ती वस्तुएं
  2. अंत्य वस्तुएं
  3. गिफ़न वस्तुएं
  4. निम्न-स्तरीय वस्तुएं

उत्तर-(b)

वे वस्तुएं, जो उपभोक्ताओं के उपभोग या फिर फर्मों के निवेश के लिए निर्धारित होती हैं, ‘अंत्य वस्तुएं’ (Final Goods) कहलाती हैं।


प्रश्न 17. निम्नलिखित में से कौन-सा वर्गीकरण कच्ची सामग्री के आधार पर उद्योगों का वर्गीकरण है?

  1. लघु उद्योग -वृहत उद्योग
  2. प्राथमिक और द्वितीयक
  3. आधारभूत और उपभोक्ता
  4. कृषि-आधारित और खनिज-आधारित

उत्तर-(d)

कच्ची सामग्री के आधार पर उद्योगों का वर्गीकरण कृषि आधारित तथा खनिज आधारित है। चीनी, कपड़ा इत्यादि उद्योग कृषि तथा लोहा, कोयला, पेट्रोलियम आदि उद्योग खनिज आधारित उद्योग हैं।

कृषि आधारित उद्योग प्राथमिक तथा औद्योगिक क्षेत्र द्वितीयक क्षेत्र में आते हैं। इसके अतिरिक्त कम पूंजी वाले उद्योगों के विपरीत अधिक पूंजी वाले उद्योग वृहत उद्योग होते हैं।


18. निम्नलिखित में से किनसे क्रेडिट के निबंधन बनते हैं?

  1. ब्याज दर
  2. संपार्श्विक
  3. दस्तावेज की आवश्यकता
  1. केवल
  2. केवल ॥
  3. केवल III
  4. I,IIतथा सभी
  भूगोल नोट्स: प्रायद्वीपीय भारत का पठार, भाग-1

उत्तर-(d)

ब्याज दर, संपार्श्विक (Collateral) एवं दस्तावेज की आवश्यकता इत्यादि क्रेडिट के निबंधन बनते हैं।

साख या क्रेडिट वास्तव में एक दस्तावेज होता है, जिसमें ऋणदाता कर्जदार को पैसा, माल अथवा सेवाएं भविष्य में वायदे के अनुसार वापस लौटाने के लिए देता है।


प्रश्न 19. यदि कोई देश उपभोक्ता वस्तुओं को छोड़कर और कोई उत्पादन नहीं करता है, तो-

  1. उसमें रहन-सहन का दर्जा सबसे ऊंचा होगा
  2. उसमें यदि ज्यादा नहीं तो उतनी ही मात्रा में माल होगा
  3. वह शीघ्र ही गरीब बन जाएगा यदि उसका विदेश व्यापार नहीं होगा
  4. वह धीरे-धीरे धनी बन जाएगा, यदि उसका विदेश व्यापार नहीं होगा

उत्तर-(c)

यदि कोई देश उपभोक्ता वस्तुओं को छोड़कर कोई अन्य उत्पादन नहीं करता है, तो वह शीघ्र ही गरीब बन जाएगा, यदि उसका विदेश व्यापार नहीं होगा क्योंकि उस देश में अन्य वस्तुओं का व्यापार न होने से आर्थिक संकट का दौर आरंभ हो जाएगा।


प्रश्न 20. निम्नलिखित में से कौन-सा नए आर्थिक सुधारों का अंग नहीं

  1. उदारीकरण
  2. निजीकरण
  3. भूमंडलीकरण
  4. केंद्रीकरण

उत्तर-(d)

वर्ष 1991 में भारत को एक गंभीर आर्थिक संकट के दौर से गुजरना पड़ा। अनेक अर्थशास्त्रियों के अनुसार, स्वतंत्रता प्राप्ति के समय से अब तक भारत की अर्थव्यवस्था में यह सबसे गंभीर आर्थिक संकट था। नए आर्थिक सुधारों के अंतर्गत निम्न नीतियां अपनाई गई

  1. उदारीकरण
  2. वैश्वीकरण
  3. निजीकरण

अतः केंद्रीकरण नए आर्थिक सुधारों का अंग नहीं है।


प्रश्न 21. भारत के भुगतान-संतुलन को किसके द्वारा ठीक किया जा सकता है?

  1. मुद्रा अवमूल्यन
  2. प्रबल निर्यात संवर्धन
  3. आयात प्रतिस्थापन
  4. उपर्युक्त सभी

उत्तर-(d)

भारत के भुगतान संतुलन को ठीक करने के लिए मुद्रा अवमूल्यन के साथ ही प्रबल निर्यात संवर्धन और आयात प्रतिस्थापन के उपाय करने होंगे।


प्रश्न 22. निम्नलिखित में से कौन-सा कर प्रत्यक्ष कर है?

  1. विक्रय कर
  2. उत्पाद कर
  3. धन कर
  4. मनोरंजन कर

उत्तर-(c)

धन कर एक महत्वपूर्ण प्रत्यक्ष कर विधान है, जो 1 अप्रैल, 1957 को अस्तित्व में आया। धन कर का उदग्रहण संपत्ति के स्वामित्व के प्राप्त लाभों पर किया जाता है, जबकि विक्रय (विक्री) कर उत्पाद कर तथा मनोरंजन कर अप्रत्यक्ष कर हैं।


प्रश्न 23. निम्नलिखित में से किस कर की वसूली केंद्रीय सरकार द्वारा नहीं की जाती?

  1. आय कर
  2. व्यावसायिक कर
  3. सीमा शुल्क
  4. उत्पादन शुल्क

उत्तर-(c)

व्यावसायिक करों (Professional Taxes) की वसूली केंद्रीय सरकार द्वारा नहीं की जाती बल्कि यह राज्य सरकारों द्वारा वसूली जाती है। मध्य प्रदेश, गुजरात, तमिलनाडु, कर्नाटक, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल प्रमुख राज्य हैं जहां यह कर वसूला जाता है।


Most Important Economics Quiz in Hindi

प्रश्न 24. भारत सरकार का सबसे अधिक राजस्व अर्जित करने वाला एक मात्र स्रोत है-

  1. प्रत्यक्ष कर
  2. सीमा कर
  3. घाटे की वित्त व्यवस्था
  4. संयुक्त उत्पादन कर

उत्तर-(a)

प्रश्न काल तथा वर्तमान में भी भारत सरकार को सर्वाधिक राजस्व प्रत्यक्ष कर से प्राप्त हो रहा है। प्रत्यक्ष कर के अंतर्गत आय कर, निगम कर, संपत्ति कर, एस्टेड ड्यूटी, उपहार कर, व्यय कर तथा ब्याज कर हैं, जबकि अप्रत्यक्ष कर के अंतर्गत सीमा कर, केंद्रीय उत्पाद शुल्क, वस्तु एवं सेवा कर (GST) आदि।

बजट, 2021-22 के अनुसार, प्रत्यक्ष एवं अप्रत्यक्ष करों का हिस्सा क्रमशः GDP का 4.9 प्रतिशत तथा 5.0 प्रतिशत अनुमानित है। जबकि सकल कर GDP का 9.9 प्रतिशत अनुमानित है।


प्रश्न 25. …………. के घाटे को विदेशों से प्राप्त निवल पूंजी प्रवाह से वित्त पोषित किया जाता है, इस प्रकार पूंजी खाता आधिक्य से।

  1. चालू लेखा
  2. बचत लेखा
  3. पूंजीगत लेखा
  4. संपत्ति लेखा

उत्तर-(a)

चालू लेखा (Current Account) के घाटे को विदेशों से प्राप्त निवल पूजी प्रवाह से वित्त पोषित किया जाता है। देश के कुल निर्यात और आयात के बीच के अंतर को चालू लेखा घाटा कहा और सेवाओं के संदर्भ में समझा जाना चाहिए। अर्थात किसी देश  में वस्तुओं और सेवाओं के आयात-निर्यात के जरिए कितनी  विदेशी मुद्रा आती है और कितनी बाहर जाती है, उसके अंतर को ता है। निर्यात और आयात सिर्फ वस्तुओं से नहीं बल्कि वस्तुओं चालू लेखा घाटा कहते हैं।


प्रश्न 26. निम्नलिखित में से कौन-सा कर केवल राज्य सरकार द्वारा लगाया जाता है?

  1. मनोरंजन कर
  2. आय कर
  3. संपत्ति कर
  4. निगम कर

उत्तर-(a)

मनोरंजन कर राज्य सरकार द्वारा लगाया जाता है। इसके अतिरिक्त राज्य सरकार द्वारा लगाए जाने वाले अन्य कर भू-राजस्व कर, स्टाम्प शुल्क, पथ कर, मोटरवाहन कर, राज्य उत्पादन शुल्क तथा व्यावसायिक कर इत्यादि हैं।

  RRB NTPC CBT-1 Biology Quiz-19 : रेलवे एनटीपीसी परिक्षा में पूछे गये जीव विज्ञान के प्रश्न


प्रश्न 27. निम्नलिखित में से कौन एक उत्पादन का कारक है?

  1. भूमि
  2. श्रम
  3. भौतिक पूंजी
  1. केवल I
  2. I तथा II दोनों
  3. II तथा II दोनों
  4. I, II तथा III सभी

उत्तर-(d)

उत्पादन के चार कारक हैं- भूमि, श्रम, पूंजी एवं उद्यमिता कौशल (Enterpreneurial Skils)| पूंजी को प्रायः वित्तीय पूंजी (Financial Capital) एवं भौतिक पूंजी (Physical Capital) में विभाजित किया जाता है।


28. ‘उत्पादन के कारक’ कितने होते हैं?

  1. एक
  2. चार
  3. छ:
  4. आठ

उत्तर-(b)

उत्पादन के चार कारक होते हैं। ये कारक हैं- भूमि, श्रम, पूंजी एवं उद्यमवृत्ति। ये चारों उत्पादन के प्राथमिक कारक हैं। वर्तमान में पांचवें कारक के रूप में संगठन (Organisation) को भी माना जा रहा है।


प्रश्न 29. का अध्ययन एवं मूल्यांकन करने के लिए विजय केलकर समिति का गठन किया गया था।

  1. सार्वजनिक-निजी भागीदारी मॉडल
  2. चीनी की मिलों की स्थिति
  3. एयर इंडिया का निजीकरण
  4. भारत में गरीबी

उत्तर-(a)

सार्वजनिक-निजी भागीदारी मॉडल का अध्ययन एवं मूल्यांकन करने के लिए विजय केलकर समिति का गठन किया गया था। 10 सदस्यीय इस समिति का गठन वर्ष 2015 में किया गया था।


प्रश्न 30. भारत की राजकोषीय नीति में निम्नलिखित में से कौन-सा उद्देश्य शामिल नहीं है ?

  1. पूर्ण रोजगार
  2. कीमत स्थिरता
  3. संपत्ति और आय का न्यायोचित वितरण
  4. अंतरराष्ट्रीय व्यापार का विनियमन

उत्तर-(d)

भारत की राजकोषीय नीति में अंतरराष्ट्रीय व्यापार का विनियमन शामिल नहीं, जबकि पूर्ण रोजगार, कीमत स्थिरता तथा संपत्ति और आय का न्यायोचित वितरण राजकाषीय नीति में शामिल है।


प्रश्न 31. सरकार के व्यय, कराधान और उधार लेने संबंधित नीति क्या कहलाती है?

  1. राजकोषीय नीति
  2. मौद्रिक नीति
  3. बैंक नीति
  4. कर नीति

उत्तर-(a)

सरकार के व्यय, कराधान और उधार लेने से संबंधित क्रियाओं तथा हीनार्थ प्रबंधन से संबंधित नीतियों को ही राजकोषीय नीति कहते हैं। इसका मुख्य उद्देश्य आर्थिक स्थिरता तथा आर्थिक विकास संबंधी कार्यक्रमों की सफलता में सहायक होने से संबंधित है।


प्रश्न 32. राजकोषीय नीति का संबंध है-

  1. अर्थव्यवस्था में मुद्रा पूर्ति से
  2. बैंकिंग व्यवस्था के विनियमन से
  3. आर्थिक विकास के लिए नियोजन से
  4. सरकार की आय तथा व्यय से

उत्तर-(d)

राजकोषीय नीति का संबंध सरकार की आय तथा व्यय से है। राजकोषीय घाटा कुल राजस्व प्राप्तियों, अनुदानों और गैर-ऋण पूंजीगत प्राप्तियों के ऊपर सरकार के कुल व्यय राजस्व तथा पूंजीगत व्यय जिसके अंतर्गत उधारों में दिए गए शुद्ध ऋणों की राशि भी सम्मिलित है, का अतिरेक है।


प्रश्न 33. राजकोषीय घाटा का अर्थ क्या है?

  1. सरकार द्वारा एकत्रित कुल राजस्व
  2. सरकार के कुल राजस्व और कुल व्यय के बीच अंतर के
  3. सरकार का कुल व्यय
  4. सरकार द्वारा ली गई कुल उधार राशि

उत्तर-(b)

सरकार के कुल राजस्व और कुल व्यय के बीच का अंतर राजकोषीय घाटा कहलाता है।


प्रश्न 34. निम्नलिखित में से कौन-सा एक राजकोषीय नीति का यंत्र नहीं है?

  1. कराधान
  2. जन व्यय
  3. लोक ऋण
  4. क्रेडिट राशनिंग

उत्तर-(d)

क्रेडिट राशनिंग मौद्रिक नीति का एक अंग है, जिसके माध्यम से साख नियंत्रण किया जाता है। जबकि कराधान, जन व्यय एवं लोक ऋण इत्यादि राजकोषीय नीति के अंग हैं।


प्रश्न 35. पूंजीगत व्यय या राजस्व घाटे में पर्याप्त वृद्धि के कारण होता है।

  1. राजस्व घाटा
  2. राजकोषीय घाटा
  3. प्राथमिक घाटा
  4. बजट घाटा

उत्तर-(b)

पूंजीगत व्यय या राजस्व घाटे में पर्याप्त वृद्धि के कारण राजकोषीय घाटा होता है। राजकोषीय घाटा अधिक होने से महंगाई में वृद्धि और कर्ज महंगा हो जाता है।


प्रश्न 36. तब होता है, जब सरकार का व्यय कुल आमदनी से अधिक होता है और उसे कर्ज लेना पड़ता है?

  1. बजट संबंधी चूक
  2. राजस्व संबंधी चूक
  3. राजकोषीय घाटा
  4. चालू खाता डिफॉल्ट

उत्तर-(c)

राजकोषीय घाटा तब होता है, जब सरकार का व्यय कुल आमदनी से अधिक होता है और उसे कर्ज लेना पड़ता है।


प्रश्न 37. निम्नलिखित में से कौन-सा विकल्प भारत सरकार द्वारा जारी किए जाने वाले राजकोषीय बिल का एक प्रकार नहीं है?

  1. 728 दिन
  2. 182 दिन
  3. 91 दिन
  4. 364 दिन

उत्तर-(a)

दिए गए विकल्पों में 728 दिन भारत सरकार द्वारा जारी किए। जाने वाले राजकोषीय बिल का एक प्रकार नहीं है।


प्रश्न 38. कराधान एक उपकरण है-

  1. मौद्रिक नीति का
  2. राजकोषीय नीति का
  3. कीमत नीति का
  4. मजदूरी नीति का

उत्