प्यूब्ला की लड़ाई का इतिहास | Battle of Puebla History in Hindi

प्यूब्ला की लड़ाई फ़्रांस और मैक्सिको के बीच 5 मई को हुई थी। इसे cinco de mayo के नाम से भी जाना जाता है जिसका असल मतलब 5 मई है। आज हम आपके लिए प्यूब्ला की लड़ाई के इतिहास (Battle of Puebla History in Hindi) से जुड़ी सभी जानकारी हिन्दी में लेकर आए हैं।

 

Battle of Puebla History in Hindi

मैक्सिको की तरफ से इस लड़ाई का नेतृत्व उस समय के मैक्सिको के मुखिया बेनिटो जॉरेज (Benito Juarez) ने की थी। जिस तरह से भारत में महात्मा गांधी का प्रभुत्व है ठीक उसी तरह मैक्सिको के लिए बेनिटो जॉरेज (Benito Juarez) को मानते हैं।

बेनिटो जॉरेज (Benito Juarez) के नाम से भारत में एक सड़क का नाम भी रखा गया है। ये सड़क दिल्ली के चाणक्यपुरी में है जो कि मैक्सिको के दूतावास की तरफ जाती है। {alertInfo}

 

इस लड़ाई के वक्त बेनिटो जॉरेज (Benito Juarez) मैक्सिको के राष्ट्रपति थे। लड़ाई से पहले मैक्सिको की आर्थिक हालत काफी खराब थी। 1848 के समय मैक्सिको काफी गरीबी से गुजर रहा था। 1848 से 52 के बीच मैक्सिको और अमेरिका की बीच कई युद्ध लड़े गए। लड़ाई की वजह से ही इस देश की हालत और भी खराब होती चली गई।

कंगाली से गुजर रहे इस देश ने ब्रिटेन, फ़्रांस और स्पेन से काफी कर्जे उधार ले लिए थे। उधार लेने की वजह से मैक्सिको की हालत और भी बदतर होती चली जा रही थी। इसी बीच राष्ट्रपति बेनिटो जॉरेज (Benito Juarez) ने 1860 में 2 साल तक लोन की किश्त न चुकाने का निर्णय ले लिया।

ब्रिटेन और स्पेन ने तो बेनिटो जॉरेज (Benito Juarez) के इस प्रस्ताव से सहमति जता थी लेकिन फ़्रांस इस बात को न मानते हुए मैक्सिको पर अपने सैनिक भेज दिए। इस समय फ़्रांस का राजा नेपोलियन तृतीय था।

जिस वजह से फ़्रांस की सेना और मैक्सिको की जनता के बीच प्यूब्ला नामक स्थान पर जाकर युद्ध हुआ। इस युद्ध का नेतृत्व बेनिटो जॉरेज (Benito Juarez) ने किया था और अपनी जनता की बदौलत फ्रांस को बुरी तरफ से परास्त कर दिया था।

Cinco De Mayo क्यों मनाया जाता है?

इसी लड़ाई की वजह से cinco de mayo मनाया जाता है। cinco de mayo का असली मतलब 5 मई होता है जो कि मैक्सिको की भाषा का शब्द है। 5 मई के दिन ही मैक्सिको ने फ़्रांस पर जीत हासिल की थी।

मैक्सिको से ज्यादा इसे अमेरिका में मनाया जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि मैक्सिको से बड़ी संख्या में नागरिक अमेरिका में प्रवासी हो गए हैं जो कि अपने इस जश्न को अमेरिका में ही मानते हैं।

   
शेयर करें -
  11 मई 2021 के सभी महत्वपूर्ण करंट अफेयर्स | 11 May 2021 Current Affairs in Hindi

Leave a Reply