भारत का संवैधानिक विकास (1858 से 1950 तक)

चार्टर एक्ट 1909

  • इसे मार्ले मिंटो सुधार के नाम से भी जाना जाता है। इसके माध्यम से मुस्लिम समुदाय के लिए पृथक निर्वाचन मंडल की स्थापना की गई।

चार्टर एक्ट 1919

  • इसे मांटेग्यू चेम्सफोर्ड सुधार के नाम से जाना जाता है।
  • इस एक्ट के माध्यम से सभी समुदायों के लिए निर्वाचन मंडल की स्थापना की गई।
  • 2 सदन की विधायिका राज्य परिषद व विधान सभा की स्थापना भी की गई।

चार्टर एक्ट 1935

  • इसे भारत शासन अधिनियम के नाम से भी जानते हैं। जिसे लघु संविधान भी कहा गया था।
  • इसमें कुल 321 धाराएं चौथा भाग और 10 परिशिष्ट थे।
  • इस एक्ट के माध्यम से भारत को संघ के रूप में विकसित किया गया और म्यांमार (बर्मा) को भारत से अलग कर दिया गया।
  • राज्यों से द्वैध शासन को खत्म कर दिया गया।
  • केंद्र में कुछ अधिकार भारतीयों को भी दिए गए।
  • सुप्रीम कोर्ट को कलकत्ता से दिल्ली संघीय न्यायालय के रूप में स्थापित किया गया।
द्वितीय विश्वयुद्ध – इस दौरान ब्रिटेन के प्रधानमंत्री विंस्टन चर्चिल थे इनका कार्यकाल 1939 से 1945 तक का था

क्रिप्स मिशन 

  • ब्रिटेन के प्रधानमंत्री ने भारत को विश्व युद्ध में शामिल होने के लिए क्रिस्प मिशन भेजा था।
  • इसके अनुसार अगर भारत क्रिप्स मिशन की सिफारिशों को मान लेता है तो भारत में संविधान सभा की गठन और इसे डोमिनियन स्टेट बना दिया जाएगा।
  • विश्व युद्ध के बाद इंग्लैंड के प्रधानमंत्री क्लीमेंट एटली बने जो कि भारत की स्वतंत्रता के समर्थक थे।

कैबिनेट मिशन 1946

  • इसके अध्यक्ष पैथिक लोरेंस थे। 
  • इसमें 2 सदस्य स्टेफोर्ड क्रिप्स और एलेग्जेंडर शामिल ूथे।
  • प्रस्ताव- संविधान सभा और अंतरिम सरकार
  • उद्देश्य- सत्ता हस्तांतरण
  That tree fell down yesterday narrowly miss my car.

अंतरिम सरकार 10 सितंबर 1946 को गठित हुई।

  • प्रमुख – जवाहरलाल नेहरू 
  • गृह मंत्रालय – सरदार पटेल 
  • कृषि मंत्रालय – राजेंद्र प्रसाद 
  • श्रम मंत्रालय – जगजीवन राम 
  • शिक्षा मंत्रालय – सी राजगोपालाचारी 
  • वित्त मंत्रालय – लियाकत अली 
  • रेल मंत्रालय – आसफ अली 
  • स्वास्थ्य मंत्रालय – गज नफर अली 
  • रक्षा मंत्रालय – बलदेव सिंह 
  • कानून मंत्रालय – योगेंद्र नाथ मंडल
  • विदेश एवं राष्ट्रमंडल – जवाहरलाल नेहरू

संविधान सभा

  • जुलाई 1946 में संविधान सभा का चुनाव हुआ।
  • 10 लाख जनसंख्या पर एक सदस्य चुना गया। ये सदस्य राज्यों की विधानसभा सदस्यों द्वारा चुने गए।
  • कुल सदस्य – 389 
  • राज्यों से – 292 
  • देसी रियासतों से – 93
  • चीफ कमिश्नर क्षेत्र से – 04


  • कांग्रेस – 204 + 4 
  • मुस्लिम लीग – 73 
  • कृषक प्रजा पार्टी – 01
  • यूनियनिस्ट पार्टी – 01
  • यूनियनिस्ट कांग्रेस पार्टी – 01
  • निर्दल – 8
  • मुस्लिम लीग ने कैबिनेट मिशन से खुद को बाहर कर लिया था, जिसके बाद अब कुल 324 सीटें बची और इन्हीं लोगों ने 2 साल 11 माह 8 दिन में संविधान का निर्माण किया।
  • संविधान सभा की पहली बैठक 9 दिसंबर 1946 को हुई। 
  • डॉ सच्चिदानंद सिन्हा को संविधान सभा का अस्थाई अध्यक्ष बनाया गया।
  • 11 दिसंबर को दूसरी बैठक में राजेंद्र प्रसाद को स्थाई अध्यक्ष चुना गया।
  • संविधान के निर्माण में कुल 12 बैठक हुई।
  • 26 नवंबर 1949 को 11वीं बैठक में भारतीय संविधान को अंगीकृत कर दिया गया।
  • 26 नवंबर 1949 को ही भारत की अंतरिम संसद स्थापित हुई और नागरिकता व निर्वाचन को लागू कर दिया गया।
  • संविधान सभा की अंतिम बैठक 24 जनवरी 1950 को हुई जिसमें राजेंद्र प्रसाद को राष्ट्रपति चुना गया।
  Geography Quiz-11 : भारतीय जलवायु पर आधारित महत्वपूर्ण प्रश्न

Leave a Reply